दुनिया के 10 सबसे ताकतवर देश 2022 | Duniya Ka Sabse Takatvar Desh List

duniya ka sabse takatvar desh – भारत में आए दिन आतंकी हमले होते रहते हैं और भारत भी किसी भी हमले से डरता नहीं है बल्कि उस हमले का मुंहतोड़ जवाब देता है। यही सब देखते हुए दुनिया भर के देश अपनी ताकत को बढ़ाने में लगा हुआ है दुनिया में कुछ देश ऐसे हैं जिस पर आज के दौर में कब्जा कर पाना लगभग नामुमकिन है।दुनिया के 10 सबसे ताकतवर देश

वर्ल्ड वॉर टू के बाद से ही दुनिया के सभी देश अन्य देशों के मुकाबले तागतवर बनना चाहता है, ताकि उस देश पर कोई कब्जा ना कर पाए। ऐसे में सभी देश अपने सैन्य शक्ति को बढ़ाने में लगा हुआ है, और दूसरे देश से ताकतवर बनना चाहता है। यही कारण है कि आज दूनिया का हर देस अपने सेना बढ़ाने के साथ साथ अपने डिफेंस सिस्टम पर देस के GDP का एक बरा हिसा खर्च कर रहा है।

ऐसे में हमारे मन में एक सबाल तो रहता ही है, की आखिर दुन्या का सबसे ताकतवर देश कौन सा है तो मैं आपके लिए लाया हूँ (दुनिया के सबसे ताकतवर देशों की लिस्ट 2022) जहा आपको दुनिया के 10 सबसे ताकतवर देश के बारे में पता चलेगा, साथ ही कोनसा देश अपने मिलिट्री के दम पर दुनिया का सबसे ताकतवर देश है।

ना सिर्फ हम देस के मिलिट्री पॉवर के बारे में बात करेंगे बल्कि उस की इकोनॉमी कैसा है, वह देश अपने सेनाओं पर कितना प्रतिसत GDP का हिसा खर्च करता है। जैसे और भी बाते, तो आप इस लेख को ध्यान से पढ़े

दुनिया के सबसे ताकतवर देशों की लिस्ट 2022 – Duniya ka sabse takatvar desh

10. सऊदी अरब

duniya ka sabse takatvar desh

यह देश वैसे भी अपने सबसे खतरनाक कानून नियमों के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है और जहां पर लोकल लोगों से ज्यादा दूसरे देश के लोग रहते हैं। दोस्तों आपको बता दूं कि सऊदी अरब को अरब देशों में से सबसे बड़ा देश माना जाता है। सऊदी अरब अपने क्षेत्रफल के लिहाज से दुनिया के 13 वा स्थान पर है जहा इसकी कुल क्षेत्रफल 2149690 किलोमीटर है। और इस देश में 3 करोड़ 57 लाख से भी अधिक लोग रहते हैं।

जहा 70% से भी ज्यादा लोग दूसरे देश से आकर रहने वाले हैं, और यहां की सबसे बड़ी आबादी ऑयल फील्ड में काम करती है। वैसे तो इस देश में और भी कई सारी इंडस्ट्री है, पर सऊदी की ऑयल फील्ड इंडस्ट्री दुनिया की सबसे बड़ी ऑल फील्ड इंडस्ट्री मानी जाती है। बता दें कि सऊदी में एक विशाल एरिया 11000 स्क्वायर किलोमीटर में ऑयल इंडस्ट्री फैली हुई है।

इसी के साथ आपको बता दूं कि सऊदी अरब की कुल जीडीपी 876.1 बिलीयन डॉलर है। जिसके कारण सऊदी अरब दुनिया का 13 वा सबसे बड़ा इकोनामी वाला देश है। साउदी अरब अपनी टोटल जीडीपी का करीब 8.4 प्रतिशत हिंसा अपनी मिलिट्री पर खर्च करता है। अब बात करते हैं सऊदी अरब मिलिट्री पावर के बारे में.

Saudi Arabia military power

एक रिपोर्ट के अनुसार सऊदी अरब दुन्या में सबसे ज्यादा हथियार खरीद रहा है। और अमरीका उसे भर – भर के हथियार बेच रहा है। जिसके कारण ये देश हमारे लिस्ट के 10 वे नंबर पर है। सऊदी अरब के पास 2.3 लाख एक्टिव सैनिक है। पर कोई भी न्युकिलर वार हेड नहीं है, इसी के साथ Main battle Tanks में सऊदी अरब के पास 1060 से भी ज्यादा टैंक्स मिलिट्री में शामिल है।

Infantry Fighting Vehicles की तो 6200 यूनिट्स से भी ज्यादा फाइटिंग व्हीकल्स सऊदी अरब के मिलिट्री में शामिल है। Towed Artillery guns की 1800 से भी ज्यादा यूनिट्स का इस्तमाल सऊदी अरब करता है। इसके बाद Multiple Rocket Launchers 270 से भी ज्यादा यूनिट्स का इस्तेमाल सऊदी अरब करता है।

Air Defense Systems में सऊदी अरब फ्रांस shahine, अमेरिकन I-Hawk, फ्रैंच क्रोटले, जैसे कुछ Air Defense Systems सऊदी अरब के मिलिट्री में शामिल है। उसके बाद हबाई तगत देखे तो सऊदी अरब के 900 से भी ज्यादा सभी तरह के मिलिट्री एयरक्राफ्ट्स है, जिसमे 300 से भी ज्यादा multirole jets है वही 300 से भी ज्यादा सऊदी अरब सभी तरह के हेलिकोप्तेर्स का इस्तमाल करता है।

समुंद्री ताकत- सऊदी अरब के पास कोई भी aircraft carriers नहीं है। और नाही कोई डेस्ट्रॉयर्स शिप। पर फ्रिगेट्स और ऐसे ही छोटे मोठे लड़ाकू शिप सऊदी अरब के पास है। देखा जाये तो यह देश जितना आमिर है उतना यह अपने डिफेन्स सिस्टम में काफी कमजोर है। और इसी लिए दुनिया के सबसे ताकतवर देशों की लिस्ट में सऊदी अरब 10 नंबर पर है।

9. तुर्की।

duniya ka sabse takatvar desh

duniya ka sabse takatvar desh में से तुर्की नौवें अस्थान पर हैं, तुर्की की पहचान इसकी सुंदरता से है और इसीलिए यह देश दुनिया का छठा सबसे बड़ा पर्यटक स्थल वाला देश भी है। बता दें कि तुर्की दुनिया भर का एकमात्र ऐसा देश है जिस का कुछ भाग यूरोप और कुछ भाग एशिया में आता है। इसके चलते तुर्की को यूरेशिया के नाम से भी जाना जाता है, इस देश की कुल क्षेत्रफल 762583 किलो मीटर स्क्वायर है।

और इस देश की आबादी 8.55 करोड़ से भी अधिक है। इसी के साथ इस देश की कुल जीडीपी 845 billion-dollar है और यह दुनिया का 17 वां सबसे बड़ा इकोनामी वाला देश है। बात करते हैं इस देश की मिलिट्री पावर के बारे में यह देश बाकी देशों से कितना ताकतवर है आइए जानते हैं।

Turkey Military Power

बात करते हैं कि वर्तमान समय में तुर्की मिलिट्री पावर कितनी है, तुर्की अपने डिफेंस सिस्टम पर देश के जीडीपी का 2.8 प्रतिशत हिस्सा खर्च करता है। बात करें तुर्की की एक्टिव मिलिट्री सेना की तो जल सेना, थल सेना और वायु सेना इन तीनों को मिलाकर के तुर्की के पास करीब 3.8 लाख एक्टिव सेना मौजूद है।

260000 थल सेना, 45000 से ज्यादा जल सेना, और 80000 से ज्यादा वायु सेना तुर्की के पास मौजूद है। Main Battle Tanks, तुर्की के पास 3020 से भी ज्यादा T1, A5T2 और NGA4 जैसे घातक टैंक्स मौजूद है। तुर्की के पास एक 11600 बुलेट प्रूफ व्हीकल्स हैं जिन में MRAP, अर्मर्ड पर्सनल करियर, जैसे कई व्हीकल्स सामिल है।

इसके बाद बात आती है रॉकेट लॉन्चर की तो तुर्की के पास 400 से भी अधिक अलग-अलग प्रकार के रॉकेट लॉन्चर हैं। एयर डिफेंस के लिए तुर्की के पास सॉर्ट रेंज बैलिस्टिक मिसाइल सिस्टम में तुर्की के पास 320 से भी ज्यादा यूनिट्स तुर्की मिलिट्री में शामिल है।

तुर्की एयरफोर्स-तुर्की के पास 1200 से भी अधिक एयरक्राफ्ट केरियर मौजूद हैं, इसमें से कुछ प्रमुख मल्टीरोल जेंट्स की बात करें तो 290 मल्टीरोल जेट्स तुर्की के पास है। वही हेलीकॉप्टर्स करीब 580 से भी अधिक तुर्की सेना में शामिल है।

समुंद्री पावर दोस्तों बात करें तुर्की के समुद्री पावर की तो तुर्की के पास कोई भी एयरक्राफ्ट कैरियर मौजूद नहीं है साथ ही कोई बड़ा डिस्ट्रॉय शिप भी नहीं है। पर तुर्की के पास सबमरीन लगभग 12 यूनिट्स मौजूद हैं, जो सभी जर्मन मेड है पर वही तुर्की के पास फ्रिगेट्स में करीब 16 फ्रिगेट्स और ऐसे ही छोटे-मोटे लड़ाकू शिप्स तुर्की के नेवी सेना में शामिल है।

8. Germany

duniya ka sabse takatvar desh
357000 किलो मीटर स्क्वायर में फैले इस देश की कुल आबादी यूरोपियन देशों में दूसरे नंबर पर आती हैं, इस देश में करीब 8.42 करोड़ से भी अधिक लोग रहते हैं। जर्मनी अपने मैन्युफैक्चरिंग पर बहुत ज्यादा ध्यान देता है और इसीलिए दुनिया में मैन्युफैक्चरिंग हब के नाम से भी जाना जाता है।

जिसके कारण जर्मनी की अर्थव्यवस्था दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। इस देश की खास बात यह है कि जहा बाकी देशों के सरक पर स्पीड लिमिट लगी रहती है, वही इस देश मे ऐसा नहीं है। इस देश के सड़कों पर नो स्पीड लिमिट रहता है मतलब की आप जितना ज्यादा स्पीड गाड़ी चलाना चाहते है उतना ज्यादा स्पीड गाड़ी चला सकते है।

जर्मनी मिलिट्री पावर

सबसे पहले हम बात करते हैं जर्मनी मिलिट्री पावर के बारे में तो जर्मनी के पास कुल 215000 एक्टिव सैनिक हैं। वही बात करे Combat Tanks की तो जर्मनी के पास करीब 284 Combat Tanks हैं। और AFV Tank की संख्या करीब 5260 है,

वही IFV बुलेट प्रूफ व्हीकल जर्मनी के पास करीब 1263 है, साथ ही आर्मोर्ड केरियर 6394 यूनिट्स जर्मनी के मिलिट्री में सामिल है। और तो और Total Artillery भी जर्मनी के पास 121 हैं। Rocket Projectors जर्मनी के मिलिट्री में करीब 76 यूनिट्स सामिल है।

Airforce जर्मनी के के पास टोटल aircraft की संख्या 701 हैं, जिसमे अलग – अलग घातक जेट्स सामिल है। बात करे हेलीकॉप्टर की तो जर्मनी के पास करीब 338 अलग अलग – प्रकार के हेलीकॉप्टर सामिल है। समुद्री ताकत- जर्मनी के पास कोई बड़ा एयरक्राफ्ट कैरियर नहीं है और ना ही कोई बड़ा डिस्ट्रॉय शिप। पर जर्मनी के पास 11 एक्टिव फ्रिगेट्स हैं। और ऐसे ही छोटे-मोटे लड़ाकू चिप्स जर्मनी के मिलिट्री में शामिल है। पर वही जर्मनी के पास 6 सबमरीन मौजूद है। इससे के साथ जर्मनी duniya ka sabse takatvar desh में से तुर्की आठवें अस्थान पर हैं।

No. 7 France

duniya ka sabse takatvar desh

दुनिया का सबसे ताकतवर देश में से एक नाम फ्रांस का भी है। वेस्ट यूरोप में फ्रांस एक बहुत बड़ा देश है यह देश जर्मनी इटली फ्रांस जैसे देशों के साथ अपना बॉर्डर शेयर करता है। पर शायद आप यह नहीं जानते होंगे कि दुनिया के कई हिस्सों में अब भी फ्रांस का कब्जा है। साथ ही यह देश दुनिया भर में हथियार बेचने वाला तीसरा सबसे बड़ा मुल्क है। जिसका राफेल एयरक्राफ्ट और सबमरीन व अन्य वार्षिप्स का इस्तेमाल दुनिया के कई सारे देश करते हैं।

बात करें देश के करंट पॉपुलेशन की तो आज के डेट में फ्रांस की कुल पपुलेशन 6.5 करोड़ से भी अधिक है। वहीं अगर बात करें फ्रांस के डिफेंस बजट की तो फ्रांस के गवर्नमेंट ने अपने डिफेंस सिस्टम का बजट 48 बिलियन डॉलर रखा हुआ है जो बाद में बढ़कर 50 बिलियन डॉलर तक भी जा सकता है।

France military power

दुनिया के चुनिंदा परमाणु बम रखने वाले देशों में से एक फ्रांस के पास 300 न्यूक्लियर वारहेड बताए जाते हैं। फ्रांस के पास आर्मी एयरफोर्स और नेवी में कुल मिलाकर 2.7 लाख से भी ज्यादा एक्टिव आर्मी मौजूद है। जमीनी ताकत में मैन बैटल टैंक्स की बात करें तो फ्रांस के पास 400 से भी ज्यादा घातक मैन बैटल टैंक्स मौजूद है। जिसमें 220 के करीब एक्टिव है और बाकी स्टोरेज में है।

इन्फेंट्री फाइटर व्हीकल और आर्मर्ड पर्सनल कैरियर की 6400 यूनिट्स फ्रांस मिलिट्री में शामिल है। बात करें Self propelled artillery की तो इसकी 110 यूनिट्स फ्रांस आर्मी के पास है। मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर में 120 से ज्यादा यूनिट्स फ्रांस आर्मी के पास है जिसमें अमेरिकन M217 व कुछ अन्य शामिल है।

वहीं एयर डिफेंस के लिए कई तरह के ट्रक लांचर एंटी बैलेस्टिक मिसाइल सिस्टम का इस्तेमाल फ्रांस आर्मी करती है। Total Air force – फ्रांस के पास 1050 से भी ज्यादा सभी तरह के एयरक्राफ्ट मौजूद है जिसमें मिराज और रफेल सीरीज की ढाई सौ से भी ज्यादा मल्टीरोल जेट्स हैं। वही 400 के करीब मिलट्री हेलीकॉप्टर्स भी फ्रांस एयरफोर्स में शामिल है।

समुद्री ताकत- फ्रांस के पास एक एयरक्राफ्ट कैरियर मौजूद है इसके अलावा फ्रांस के पास 3 हेलीकॉप्टर्स भी है। इसके बाद डिस्ट्रॉय शिप्स – फ्रांस नेवी में 10 डिस्ट्रॉय शिप्स शामिल है और frigate में फ्रांस के पास 11 फ्रिगेट नेवी में शामिल है।

No.6 South Korea.

duniya ka sabse takatvar desh

साउथ कोरिया ना सिर्फ दुनिया का छठा सबसे ताकतवर देश है बल्कि एशिया के सबसे अमीर देशों में से एक है। जो अपने मॉडल और खास तौर से अपने मिलिट्री पावर के लिए जाना जाता है। और साउथ कोरिया को तरक्की के लिए दुनिया में एक मिसाल माना जाता है। चाइना और जापान के बीच मौजूद इस देश ने अपने आप को काफी तेजी से डेवलप करने पर जोर दिया

आपको बता दूं कि साउथ कोरिया का डिफेंस सिस्टम का बजट करीब 62 बिलियन डॉलर है। अब ऐसा नहीं है कि यह देश टेक्नोलॉजी और मिलिट्री पर ही पैसा खर्च करता है बल्कि यहां एजुकेशन और बिजनेस पर भी काफी जोर दिया जाता है, और इसी लिए साउथ कोरिया गवर्नमेंट देश के शिक्षा पर काफी खर्च करती है। देश भले ही छोटा हो मगर इसकी पावर बहुत ज्यादा है।

दुनिया का सबसे ताकतवर देश में से एक साउथ कोरिया, जिसके पास 5.5 लाख से भी ज्यादा एक्टिव आर्मी है। वही जमीनी ताकत में मैन बैटल टैंक्स साउथ कोरिया के पास 2600 से भी अधिक है। Infantry fighting vehicles साउथ कोरिया के पास 14000 यूनिट्स से भी ज्यादा हैं।

Multiple rocket launchers – साउथ कोरिया के पास 570 मल्टीपल रॉकेट लांचर यूनिट्स हैं। बात करें साउथ कोरिया के हवाई ताकत के बारे में तो 500 से भी ज्यादा मल्टीपल जेट्स हैं और वही 850 से भी अधिक हेलीकॉप्टर्स है और समुद्री ताकत में साउथ कोरिया के पास कोई भी एयरक्राफ्ट कैरियर नहीं है। पर वही साउथ कोरिया के पास दो हेलीकॉप्टर कैरीयस समुद्री ताकत में शामिल है।

No.5 Japan

duniya ka sabse takatvar desh 2022

वैसे तो जापान को लोग दो ही वजहों से याद रखते हैं पहला तो परमाणु हमले के लिए और दूसरा टेक्नोलॉजी के लिए। वैसे तो जापान दुनिया का बड़ा ही अनोखा देश रहा है, और वहीं अगर इसकी हिस्ट्री की बात करें तो 1858 से पहले का जापान अपने आप को दुनिया से अलग धलग ही रखता था। और जापान चाइना रसिया और अमेरिका जैसे देशों के साथ युद्ध भी किया

जिसके कारण वर्ल्ड वॉर टू के दौरान अमेरिका ने जापान पर परमाणु बम से हमला किया।पर वही देश आज बाकी देशों से टेक्नोलॉजी के साथ – साथ विकसित होने के मामले में सबसे आगे हैं और जापान टेक्नोलॉजी के लिए ही जाना जाता है। बुलेट ट्रेन कैमरा कार से लेकर डिफेंस सिस्टम तक सभी जापान की टेक्नोलॉजी के नमूने हैं।

Japan Military Power

दोस्तों जापान के पास 2.5 लाख एक्टिव मिलिट्री आर्मी है बात करें हवाई ताकत की तो जापान के पास 256 से भी ज्यादा घातक मिलिट्री जेट्स हैं। और इसके बाद मिलिट्री में की जाने वाली सभी प्रकार के हेलीकॉप्टर जापान के पास 650 यूनिट्स मिलिट्री में शामिल है।जापान के पास मैन बैटल टैंक्स की संख्या 1000 से भी अधिक है

इसके बाद है हथियारों से लैस इन्फेंट्री फाइटर व्हीकल और आर्म्ड पर्सनल कैरियर जो जापान के पास 5500 यूनिट से भी अधिक आर्मी में शामिल है। जापान के पास मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर की संख्या 100 है. पर वही जापान के पास समुद्री ताकत में कोई भी एयर क्राफ्ट कैरियर नहीं है लेकिन इसके पास चार हेलीकॉप्टर्स कैरियर मौजूद है वही समुद्री शक्ति को डिस्ट्रॉय करने के लिए 37 डिस्ट्रॉयर शिप्स जापान के पास मौजूद है।

No.4 India

Most powerful country in the world

दुनिया के सबसे पावरफुल देशों की बात करें तो इंडिया इस लिस्ट में एक अहम पोजीशन रखता है। यह तो हम सभी जानते हैं कि जनसंख्या के लिहाज से भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश है पर वही बढ़ती जनसंख्या को देखते हुए जल्द ही भारत चीन को पछाड़ कर दुनिया का सबसे बड़ा जनसंख्या वाला देश बन जाएगा। और ना सिर्फ जनसंख्या के मामले में बल्कि टेक्नोलॉजी, एजुकेशन जैसे कई आर्थिक क्षेत्र में भारत बाकी देशों को पीछा छोड़ जल्द ही आगे निकल जाएगा।

क्योंकि दोस्तों भारत 1990 से लेकर अब तक 6.5% एवरेज ग्रोथ रेट बनाए रखने के कारण भारत के लगातार विकास होने की गति, जापान, जर्मनी और रूस जैसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशों से भी आगे बढ़ रही है। वही एक रिसर्च के अनुसार अगले 20 वर्षों में भारत की अर्थव्यवस्था दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगी। साथ ही फिल्म, इंडियन फूड, क्रिकेट और योगा के चलते दुनिया में इंडिया की पहचान लगातार बढ़ती जा रही है।

India Military Power

आज के समय में इंडिया आपने डिफेंस सिस्टम पर 65 पॉइंट 8 बिलियन डॉलर खर्च करता है, वही बात करे भारत के जमीनी ताकत की तो जल सेना वायु सेना और थल सेना इन तीनों को मिलाकर के भारत के पास 14.3 लाख एक्टिव आर्मी मौजूद है। और यह तो आप जानते ही होंगे कि भारत एक न्यूक्लियर पावर देश है। जिसके पास 180 से 190 न्यूक्लियर वारहेड्स हैं।

वही बात करें बैटल टैंक्स की तो भारत दुनिया का चौथा सबसे ज्यादा बैटल टैंक्स रखने वाला देश है भारत के पास कुल बैटल टैंक्स की संख्या 4750 Man Battle Tanks है। उसके बाद बात करते हैं रॉकेट लॉन्चर की तो भारत के पास 1300 से भी अधिक रॉकेट लॉन्चर मौजूद है। TOWES Artillery Guns में भारत के पास 3300 से भी अधिक यूनिट्स मिलिट्री में शामिल है।

भारत के पास टोटल एयरक्राफ्ट 2130 एक्टिव है जिसमें सभी प्रकार के राफेल जैसे घातक जेंट्स शामिल है। वही सभी तरह के हेलीकॉप्टर में भारतीय सेना में करीब 800 से भी ज्यादा हेलीकॉप्टर शामिल है, वही इंडियन नेवी के पास फिलहाल में दो एयरक्राफ्ट कैरियर हैं। और साथ ही 18 सबमरींस, 10 destroyer शिप और 13 फ्रिगेट्स के साथ कुछ छोटे मोटे शिप्स इंडियन नेवी में शामिल है।

No.3 China

दुनिया का सबसे ताकतवर देश 2022
वैसे तो चाइना को टेक्नोलॉजी मिलिट्री और भाई पॉपुलेशन के लिए जाना जाता है, और यह तो हम सभी जानते हैं कि दुनिया में कोई ऐसा देश है जहां सबसे ज्यादा आबादी हो तो वह है चाइना, पर क्या आपने कभी यह सोचा है चाइना इसके बावजूद भी इतना विकसित और ताकतवर देश कैसे बना। चाइना का इतिहास यह है कि वह काफी मेहनती देश रहा है मेहनत के बल पर ही खुद को इस मुकाम पर पहुंचाया है।

जीडीपी के मामले में भी अमेरिका के बाद चाइना दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश है, और अगर भारत से तुलना की जाए तो चाइना की अर्थव्यवस्था भारत से 4 गुना ज्यादा है

China Military Power

शुरुआत करते हैं चाइना के एक्टिव आर्मी से तो चाइना के पास कुल 21 लाख एक्टिव आर्मी की बारी फौज है, इसी के साथ चाइना दुनिया का सबसे बड़ा फौज रखने वाला देश भी है। वहीं चीन के पास 350 से भी अधिक न्यूक्लियर वारहेड बताए जाते हैं। मैन बैटल टैंक्स चीन के पास 4700 और Infantry Fihting Vehicles 14000 यूनिट्स चीन के मिलिट्री में शामिल है।

Rocket Launchers में चीन के पास 1300 से भी अधिक यूनिट्स चीनी मिलिट्री में शामिल है, हवाई ताकत में चीन के पास आर्मी में इस्तेमाल किए जाने वाले जितने भी फाइटर जेंट्स हेलीकॉप्टर्स एरोप्लेन इन सभी का 3300 से भी अधिक यूनिट चीनी आर्मी में शामिल है। चीन के समुद्री ताकत की ओर देखे तो चीन के पास दो एयरक्राफ्ट कैरियर के साथ 79 सबमरींस, 50 छोटे बड़े सभी तरह के डिस्ट्रॉयर शिप है।

No.2 Russia.

dunya ka sbse taktbar desh

 

एशिया में मौजूद रसिया ना सिर्फ एशिया का बल्कि पूरी दुनिया का सबसे बड़ा क्षेत्रफल वाला देश है। रसिया दुनिया के उन देशों में गिना जाता है जो अमेरिका को सीधी टक्कर देने की ताकत रखता है आज के समय में रसिया ही अमेरिका का सबसे बड़ा कंप्यूटर माना जाता है बता दें कि यह दौर आज से नहीं बल्कि वर्ल्ड वॉर के समय से ही चला आ रहा है जिसका नतीजा ओल्ड वर्क के रूप में देखा जा चुका है

No.1 America

duniya ka sabse takatvar desh

ये तो हम सभी जानते है की दुनिया का सबसे ताकतवर देश duniya ka sabse takatvar desh अमरीका है। पर वही Russia भी इससे पीछे नहीं है आज रूस भी दुन्या का सुपर पावर बनना चाहता है और ऐसे में रूस अपने डिफेंस सिस्टम को बढ़ाने में लगा हुआ है। america और russia के मिलिट्री पावर जानने के लिए आप निचे इस वीडियो को देख सकते है जहा आपको अमरीका Vs रूस मिलिट्री पावर के बारे में सभी जानकारी मिल जाएगी

तो दोस्तों ये था दुनिया का सबसे ताकतवर देश duniya ka sabse takatvar desh जहा आपको दुनिया के 10 सबसे ताकतवर देश के बारे में पता चला और अगर आपको इस लेख से जुड़ी कोई भी सबाल हो तो आप हमे कमेंट में पूछ सकते है आपको जरूर उस सबाल का उत्तर मिलेगा।

ये भी पढ़े 

1 thought on “दुनिया के 10 सबसे ताकतवर देश 2022 | Duniya Ka Sabse Takatvar Desh List”

Leave a Comment